उत्तराखंडपिथौरागढ़

उत्तराखंड (बड़ी खबर): ग्रामीण  बैंक के मैनेजर व कैशियर हुए अचानक लापता, फिर यहां मिली लाश.. मचा हड़कंप

डीडीहाट/पिथौरागढ़ उत्तराखंड ग्रामीण बैंक डीडीहाट के शाखा प्रबंधक और कैशियर की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। पिथौरागढ़ से डीडीहाट के लिए रवाना हुए दोनों लोग रविवार रात से लापता थे। ढूंढखोज के बाद उनके शव जिला मुख्यालय पिथौरागढ़ से 33 किमी दूर रणगांव के पास 400 मीटर गहरी खाई में गिरी कार के भीतर मिले। क्षतिग्रस्त कार को कटर की मदद से काटकर दोनों शवों को निकाला गया।

देहरादून में हुआ सड़क हादसा..अनियंत्रित ट्रक ने कई लोगों को कुचला, हादसे में एक शख्स की मौत

प्राप्त जानकारी के मुताबिक ग्रामीण बैंक डीडीहाट शाखा के शाखा प्रबंधक रविकांत मेहता और कैशियर त्रिवेणी महादेव अन्य कर्मचारियों के साथ हल्द्वानी में आयोजित एक ईवेंट में प्रतिभाग करने के बाद रविवार रात को पिथौरागढ़ पहुंचे। जहां पर पिथौरागढ़ के कर्मियों को उतार कर अपनी निजी कार से रात करीब साढ़े 10 बजे डीडीहाट को रवाना हुए। लेकिन डीडीहाट पहुंचे नहीं। सोमवार सुबह 10 बजे तक बैंक नहीं पहुंचने पर बैंक कर्मियों ने उनके मोबाइल नंबर पर फोन मिलाया तो दोनों के फोन स्विच ऑफ आ रहे थे।

खोजबीन में उनकी कार UK04AE-7634 कनालीछीना क्षेत्रांतर्गत खिरचना पुल के पास गहरी खाई में गिरी हुई पाई गई। जिसमें दोनों व्यक्तियों की मौत हो चुकी थी। मौके पर थाना कनालीछीना पुलिस व एसडीआरएफ टीम द्वारा कड़ी मशक्कत के बाद रेस्क्यू कर मृतक के शवों को खाई से निकालकर पंचायतनामा की कार्यवाही की गई तथा शवों को पोस्टमार्टम हेतु मोर्चरी भिजवाया गया।

Related Articles

Back to top button