उत्तराखंडहल्द्वानी

अजब गजब : दोस्त को बारात में नही लेजाना पड़ा भारी, दोस्त ने ठोका 50 लाख का मानहानि का दावा

सुनने में यह बात अजीब जरूर है लेकिन है सौ फ़ीसदी सच। कार्ड देकर शादी में बुलाने के बावजूद बरात में ना ले जाने पर एक दोस्त ने दूसरे दोस्त पर 50 लाख रुपये का दावा ठोक दिया है। जानकारी के अनुसार आराध्या कॉलोनी बहादराबाद निवासी रवि की शादी धामपुर यूपी निवासी अंजू के साथ 23 जून 2022 को तय हुई थी।

उत्तराखंड : यहाँ अनियंत्रित होकर हाईवे पर पलटा ट्रक, एक युवक की मौत तो दूसरा घायल

आमतौर पर शादी-ब्याह में दूल्हा अपने दोस्तों को जरुरी आमंत्रित करता है। शादी में मस्ती करने के मामले में दूल्हा-दुल्हन के दोस्त हमेशा आगे रहते हैं, लेकिन यदि हम आपको बताए की एक दोस्त द्वारा दूसरे दोस्त को बारात में ना ले जाने पर 50 लाख रुपए का हर्जाना भरने का नोटिस भेज दिया। तो शायद आप यह यकीन नहीं करेंगे, लेकिन है 100 फीसदी सच। दोस्त ने आरोप लगाया कि कार्ड में दिए गए समय से पहले दूल्हा बरात लेकर चला गया और जब तक दोस्त तैयार होकर पहुंचा तब तक बरात रवाना हो चुकी थी।

उत्तराखंड : सड़क हादसे में 5 युवकों की दर्दनाक मौत, इलाके में शोक की लहर

जिस पर चंद्रशेखर ने रवि से जानकारी ली तो रवि ने बताया कि हम लोग जा चुके हैं और आप लोग वापस चले जाओ। चंद्रशेखर का कहना है कि उसके कहने पर जो लोग शादी में जाने के लिए आए हुए थे, उन सभी लोगों को दुख पहुंचा और उन सभी ने चंद्रशेखर को अत्यधिक मानसिक प्रताड़ना पहुंचाई। चंद्रशेखर की छवि को खराब किया। इस संबंध में चंद्रशेखर ने रवि को फोन पर भी मानहानि के संबंध में सूचना दी, लेकिन उसने ना तो कोई खेद जताया और ना ही कोई माफ मांगी। चंद्रशेखर ने अपने एडवोकेट अरुण भदोरिया के माध्यम से एक कानूनी नोटिस रवि को भिजवाया है कि तीन दिन के अंदर मानहानि की बाबत सार्वजनिक रूप से क्षमा याचना करें और 50 लाख हर्जाना भरे।



Related Articles

Back to top button