उत्तराखंडटिहरी

उत्तराखंड : हैवान बनी सास और ननंद.. बहू को गर्म तवे से जलाया

देहरादून। राजधानी देहरादून में हैवानियत की हदें पार करते हुए सास व ननद द्वारा बहु को गर्म तवे से जलाये जाने का मामला सामने आया है। टिहरी जाखणीधार निवासी एक विवाहिता के साथ जीवनगढ़ देहरादून में उसके ससुराल वालों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं। पीड़ित महिला प्रीति (उम्र 32 साल) को उसकी सास सुभद्रा और ननद जया ने गर्म तवे से बुरी तरह जला दिया। इतना ही नहीं उन्‍होंने बच्‍चों को भी बख्‍शा।

Road Safety World Series 2022 : देहरादून पहुँचे world के धुरंधर खिलाड़ी..जानिये मैच शेड्यूल

जानकारी के अनुसार टिहरी जिले के जाखणीधार से बीते शनिवार देहरादून पहुंची पीड़िता की मां ने अपनी बेटी को किसी तरह बचा लिया है। उनकी बेटी प्रीति का जीवनगढ़ देहरादून में सुसराल है। जहां उसके ससुराल वालों ने हैवानियत की सारी हदें पार करते हुए पीड़ित महिला प्रीति को उसकी सास सुभद्रा और ननद जया ने गर्म तवे से बुरी तरह जला दिया। इतना ही नहीं विरोध करने पर बच्चों से भी मारपीट की गयी है। बताया जा रहा है कि पीड़ित प्रीति की मां सरस्वती शनिवार को जब अपनी बेटी के ससुराल जीवनगढ़ पहुंची तो उन्हें अपनी ही बेटी से ससुराल वालो ने मिलने नहीं दिया। संदेह होने पर जब वह जबरन घर में घुसीं तो उनकी बेटी बुरी तरह घायल हालत में मिली।

आनन-फानन में वह अपनी बेटी को लेकर अपने घर रिंडोल ग्राम जाखणी धार टिहरी गढ़वाल पहुंचीं। बीते रोज जब प्रधान और अन्य ग्रामीणों को घटना की जानकारी मिली तो उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दे दी। मंगलवार सुबह पीड़िता प्रीति और ग्रामीण एसपी ऑफिस पहुंचे और ससुराल पक्ष के लोगों के खिलाफ तहरीर दे दी। प्रीति की मां सरस्वती का कहना है कि उनकी बेटी को बुरी तरह जलाया गया है। बेटी के तीन बच्चे इसका विरोध करते है तो बच्चों से भी मारपीट की जाती है। उन्होने बताया कि उनकी बेटी के पति अनूप की मानसिक हालत ठीक नहीं है, जिस कारण प्रीति की सास और ननद उनकी बेटी को मारते रहते है। इस मामले में एसपी टिहरी नवनीत सिंह भुल्लर ने बताया कि नई टिहरी कोतवाली में देहरादून निवासी आरोपी सास और ननद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही दोनों की गिरफ्तारी की जाएगी। महिला का मेडिकल कराने के बाद उसे देहरादून बर्न यूनिट कोरोनेशन रेफर कर दिया गया है। वहीं पुलिस मामले में अग्रिम कार्यवाही पर जुटी है।



Related Articles

Back to top button