उत्तराखंड

उत्तराखंड : सचिवालय एसो ने 7 दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा की

उत्तराखंड सचिवालय संघ ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर सरकार के साथ बनी सहमति के क्रियान्वयन में अनावश्यक रूप से बाधा डालने का आरोप लगाते हुए अधिकारियों पर 7 दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू करने की धमकी दी है. उत्तराखंड विधानसभा का दो दिवसीय शीतकालीन सत्र 7 दिसंबर से गैरसैंण चमोली में शुरू हो रहा है. सचिवालय कर्मियों के शक्तिशाली संघ की महासभा की बैठक मंगलवार को सचिवालय स्थित एटीएम चौक पर हुई. एसोसिएशन के अध्यक्ष दीपक जोशी ने बताया कि इस साल 14 अक्टूबर को सामान्य प्रशासन विभाग और सचिवालय संघ के बीच विभिन्न मांगों को लेकर लिखित समझौता हुआ था. उन्होंने कहा कि अभी समझौते पर अमल शुरू नहीं हुआ है।

जोशी ने कहा कि गोल्डन हेल्थ कार्ड योजना जैसे संवेदनशील मुद्दे पर अधिकारियों का उदासीन रवैया कैबिनेट के फैसले के बाद भी बना हुआ है. उन्होंने कहा कि एसोसिएशन अब मांग करती है कि समझौते में शामिल सभी बिंदुओं के लिए सरकारी आदेश (जीओ) तुरंत जारी किए जाएं. चरणबद्ध धरना के कार्यक्रम की घोषणा करते हुए जोशी ने कहा कि 24 नवंबर से दो घंटे काम का बहिष्कार किया जाएगा और 29 नवंबर से बहिष्कार को बढ़ाकर तीन घंटे किया जाएगा. 2 व 3 दिसंबर को एसोसिएशन ने चार घंटे के कार्य बहिष्कार का आह्वान किया है और सोमवार 6 दिसंबर को एसोसिएशन स्थिति की समीक्षा करेगी. जोशी ने कहा कि अगर सरकार संघ की मांगों पर कार्रवाई नहीं करती है तो सात दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू होगी. उन्होंने कहा कि एसोसिएशन अब मांग करती है कि समझौते में शामिल सभी बिंदुओं के लिए सरकारी आदेश (जीओ) तुरंत जारी किए जाएं. चरणबद्ध धरना के कार्यक्रम की घोषणा करते हुए जोशी ने कहा कि 24 नवंबर से दो घंटे काम का बहिष्कार किया जाएगा और 29 नवंबर से बहिष्कार को बढ़ाकर तीन घंटे किया जाएगा. 2 व 3 दिसंबर को एसोसिएशन ने चार घंटे के कार्य बहिष्कार का आह्वान किया है और सोमवार 6 दिसंबर को एसोसिएशन स्थिति की समीक्षा करेगी. जोशी ने कहा कि अगर सरकार संघ की मांगों पर कार्रवाई नहीं करती है तो सात दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू होगी।

उन्होंने कहा कि एसोसिएशन अब मांग करती है कि समझौते में शामिल सभी बिंदुओं के लिए सरकारी आदेश (जीओ) तुरंत जारी किए जाएं. चरणबद्ध धरना के कार्यक्रम की घोषणा करते हुए जोशी ने कहा कि 24 नवंबर से दो घंटे काम का बहिष्कार किया जाएगा और 29 नवंबर से बहिष्कार को बढ़ाकर तीन घंटे किया जाएगा. 2 व 3 दिसंबर को एसोसिएशन ने चार घंटे के कार्य बहिष्कार का आह्वान किया है और सोमवार 6 दिसंबर को एसोसिएशन स्थिति की समीक्षा करेगी. जोशी ने कहा कि अगर सरकार संघ की मांगों पर कार्रवाई नहीं करती है तो सात दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू होगी. जोशी ने कहा कि 24 नवंबर से दो घंटे काम का बहिष्कार किया जाएगा और 29 नवंबर से तीन घंटे का बहिष्कार किया जाएगा. 2 व 3 दिसंबर को एसोसिएशन ने चार घंटे के कार्य बहिष्कार का आह्वान किया है और सोमवार 6 दिसंबर को एसोसिएशन स्थिति की समीक्षा करेगी. जोशी ने कहा कि अगर सरकार संघ की मांगों पर कार्रवाई नहीं करती है तो सात दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू होगी. जोशी ने कहा कि 24 नवंबर से दो घंटे काम का बहिष्कार किया जाएगा और 29 नवंबर से तीन घंटे का बहिष्कार किया जाएगा. 2 व 3 दिसंबर को एसोसिएशन ने चार घंटे के कार्य बहिष्कार का आह्वान किया है और सोमवार 6 दिसंबर को एसोसिएशन स्थिति की समीक्षा करेगी. जोशी ने कहा कि अगर सरकार संघ की मांगों पर कार्रवाई नहीं करती है तो सात दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू होगी



Related Articles

Back to top button