उत्तराखंड

ब्रेकिंग न्यूज़: चुनाव से बीजेपी को लगा बड़ा झटका, हरक सिंह रावत और उमेश शर्मा काऊ ने दिया इस्तीफा

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के ट्वीट विवाद से गरमाई सियासत ठंडी पड़ी ही थी कि प्रदेश सरकार के कद्दावर कैबिनेट मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत के इस्तीफे की खबर ने सियासत गरमा दी। हरक सिंह के पास वन एवं पर्यावरण, श्रम एवं आयुष मंत्रालय है। हालांकि उनके इस्तीफे की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई। भाजपा ने भी उनके इस्तीफे से इंकार किया।

विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही कांग्रेस के बाद बीजेपी में भी अंतर्कलह सामने निकलकर आई है. कैबिनेट मन्त्री हरक सिंह रावत ने दिया कैबिनेट मंत्री पद से इस्तीफा दिया है. सूत्रों के मुताबि रावत और उमेश शर्मा काऊ ने दियाक वह कैबिनेट बैठक बीच में छोड़कर गुस्से में बाहर निकल गए. वहीं, सूत्रों के हवाले से खबर है कि उमेश शर्मा काऊ ने भी भाजपा से इस्तीफा दे दिया है।

हरक सिंह रावत के पास वर्तमान में उत्तराखंड में वन एवं पर्यावरण, लेबर और स्किल डेवलपमेंट मंत्रालय है. इससे पहले कैबिनेट मंत्री रहे यशपाल आर्य ने पिछले महीने ही अपने पुत्र संजीव आर्य के साथ वापस कांग्रेस जॉइन कर ली थी. जिसके बाद से सियासी बाजार में उनके कांग्रेस में वापसी के चर्चे होते रहते हैं, इसी बीच उनके मंत्री पद से इस्तीफा देने की खबर आई है।

कोटद्वार में मेडिकल कालेज का प्रस्ताव न आने से नाराज

बताया जा रहा है कि शुक्रवार को प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में कोटद्वार मेडिकल कॉलेज का प्रस्ताव न आने से हरक सिंह रावत का पारा चढ़ गया। मेडिकल कॉलेज को लेकर वह अपनी नाराजगी पिछली कैबिनेट बैठक में भी जता चुके हैं। तब उन्हें आश्वस्त किया गया था कि आगामी कैबिनेट बैठक में प्रस्ताव लाया जाएगा। शुक्रवार को कैबिनेट में प्रस्ताव लाए जाने की उनकी उम्मीद एक बार फिर टूट गई। इससे उन्होंने बैठक में ही अपनी नाराजगी जाहिर की और इस्तीफे की धमकी देकर चले गए।



Related Articles

Back to top button